Tum sath nahi ho – Hindi poem

तुम साथ नहीं हो
तो कुछ नहीं है
सब कुछ फीका है
सारे दिन फीके हैं
सारी रातें फीकी हैं
सारी बातें फीकी हैं
बहुत याद आती है
दिल को सताती है
काश तुम मेरे पास आ सकती

How to read:
Tum sath nahi ho
To kuch nahi hai
Sab kuch fikka hai
Sare din fikkei hai
Sari raatein fikki hai
Sari baatein fikki hai
Bhut yaad aati hai
Dil ko stati hai
Kash tum mere paas aa sakti

 

Hindi Poem on Father|Dad

जब किसी मुश्किल सवाल का जवाब हो न पता
तब याद आतें है मुझे अपने प्यारे पिता
लगते हैं वो बाहर से थोड़े सख्त
पर हमेशा देते हैं मुझको अपना वक़्त
बुरी संगत में न मैं पड़ जाऊँ
इसलिये रखते हैं मुझपर नज़र
जब भी पिताजी बाज़ार जाते हैं
मेरे लिये ज़रूर कुछ लाते हैं
मुझे अपने पिताजी पर बहुत गर्व है
पिताजी साथ हैं तो खुश हर पर्व है

How to read:
Jab kisi mushkil swal ka jbab ho na ptta
Tab yaad aatei hai muje apne pyare pita
Lagte hai wo bahar se thode sakhth
Par hmesha dete hai mujko apna waqt
Buri sangat mein na pad jaun
Esliye rakhte hai mujhpar nazar
Jab bhi pita ji bajaar aate hai
Mere liye jarur kuch late hai
Muje apne pita ji par bhot garv hai
Pita ji hai to khush har parv hai

Meri pyari Maa – Hindi Poem on Mother

मेरी प्यारी माँ तू कितनी प्यारी है

जग है अंधियारा तू उजियारी है
शहद से मीठी हैं तेरी बातें
आशीष तेरा जैसे हो बरसातें
डांट तेरी है मिर्ची से तीखी
तुझ बिन ज़िंदगी है कुछ फीकी
तेरी आंखो में छलकते प्यार के आंसू
अब मैं तुझसे मिलने को भी तरसूं
माँ होती है भोरी भारी
सबसे सुन्दर प्यारी प्यारी
-अनुष्का सूरी द्वारा अपनी माँ डॉ सुषमा सूरी को समर्पित

Behakti ye nazar – Hindi Poem On Love

बहकती ये नज़र अब किसे बह्काएगी
तेरी याद की ये तड़प अब और कितना तडपाएगी
तेरे लब पर खिलती हुई जब एक हंसी आयेगी
प्या बताऊँ देख के तुझे ज़ालिम जान ये मेरी जाएगी
बादलों से तेज़ बरसात होगी
जब अपनी मीठी मुलाकात होगी
इस तड़पते दिल को जोर से तब धडकाएगी
जब सब तूफ़ान को चीर कर पास तू मेरे आयेगी

How to read:
Bahkati ye nazar ab kise bhkayengi
Teri yaad ki ye tadap ab aur kitna tadpayegi
Tere lab par khilti hue jab ek hansi aayegi
Kya btaun dekh ke tujhe jalim jaan ye meri jayegi
Badlo se tez barsaat hogi
Jab apni mithi mulakaat hogi
Es tadpte dil ko jaur se tab dhdkayegi
jab sab tufaan ko cheer kar paas tu mere aayegi

Hindi Messages For Love | Hindi Love Messages

Here are some cute, original Hindi love messages for him and her which you would enjoy reading and sharing :

Hindi Love Messages with English Translation :

  • मुझे रात दिन बस एक काम है

मेरी जुबां पर बस तेरा ही एक नाम है

I have only one work day and night. Only your name is present on my throat.
  • तेरी आँखों का ये जो मस्त जाम है
             पिला दे मुझे ये तेरा आशिक बदनाम है
The intoxicating nectar of your eyes, let me drink it, your lover is notorious.
  • दिल खोल के देख लो मेरा नाम लिखा है इस में बस तेरा
            आजा मेरी ज़िदगी में अब तू मैंने दिल से तुझे है पुकारा
Open my heart and see, only your name is written on it. Come in my life now, my heart is longing for you.
  • फूलो की खुशबू से चरों तरफ छाई है बहार
             बताना चाहता हूँ मुझको तुझसे है कितना प्यार
The spring is blossoming with the fragrance of the flowers. I wish to tell you how much I love you.
  • तेरे बिना चैन नहीं मुझे दिन रैना
             तू अब बस मेरी बनके ही रहना
My mind is in an unrest day and night. Now you be only mine.

Seekha hai tumse – Hindi Poem

तेज़ दर्द में भी मुस्कुराना सीखा है तुमसे
डगमगाती कश्ती में न थरथराना सीखा है तुमसे
यूँ तो लोग बहादुर कहलाते है जंग लड़के लेकिन
ज़िन्दगी की जंग को लड़ते जाना सीखा है तुमसे
चाहे हो छाए काले बदल या हो छाया घोर अँधेरा
तुमको तो दिख जाता था दूर कही उगता सूरज
क्या कहना तुम्हारे साहस का क्या कहना तुम्हारा धीरज का
तुम्हारा वो मुस्कुरा कर सह लेना चाहे जो हो संकट
सलाम है तुमको चाहे आज तुम मेरे साथ नहीं
दिल में मेरे जीती रहोगी हमेशा जैसे जीती हो आज अभी

Holi Hai Bhai Holi Hai – Hindi Kavita

होली है भाई होली है
रंगों की रंगोली हैं
कहीं पकवान मिठाई है
कहीं रंगों की सगाई है
सब तरफ मस्ती सी चाई है
होली खुशियाँ संग लायी है
कोई है हरा कोई नीला है कोई लाल
होली के रंगों में हैं सब खुशहाल
हमको भी होली है खूब भाई
आप को भी होली की बहुत बधाई

Maa – Hindi Poem on Mother

सबसे सुन्दर जग में कौन?
बस एक तू है माँ
सबसे प्यारी किसकी मुस्कान?
बस एक तेरी ही है माँ
किस ने बनायीं मेरी पहचान?
तूने ही तो मेरी प्यारी माँ
किसकी बोली मिश्री से मीठी
तेरी ही है मेरी माँ
किसकी डांट है इमली से तीखी
तेरी ही तो प्यारी माँ
किसके लिए करूँ मैं सब कुर्बान
तेरे लिए मेरी प्यारी माँ

Hum Panchi Hain Neel Gagan Ke – Hindi Poem

हम पंछी हैं नील गगन के

हमको तुम अब उड़ने दो
खुले आकाश में पतंगों जैसे
ऊंचाइयों को तुम छूने दो

Image

हमको पिंजरों में न पकड़ो
हमारे पंखों को मत जकड़ो
हमको भी जीने दो कुछ जीवन
जिसमें हो कुछ भीगा सावन
हमको रहने दो तुम आज़ाद
बस इतनी सी हैं फरियाद

Main hoon ek ped – Hindi Poem

मैं हूँ एक पेड़ खड़ा बीच सड़क
सुनाऊँ क्या अपनी भी मैं कुछ दास्तान Image
चारों तरफ मेरे हैं चलती गाड़ी
और सर पर है एक खुला आसमान
आता है पतझड़ या हो छाई बसंत
मेरे यहाँ खड़े रहने का नहीं कोई अंत
कितने सावन देखे मैंने कितनी  देखी फुआर
कितनी गर्मी झेली मैंने कितनी सर्दी भरमार
फिर भी मैं रहता हूँ यहाँ खड़ा अकेला
चरों तरफ मेरे है लोगों का मेला