Holi Hai Bhai Holi Hai – Hindi Kavita

होली है भाई होली है
रंगों की रंगोली हैं
कहीं पकवान मिठाई है
कहीं रंगों की सगाई है
सब तरफ मस्ती सी चाई है
होली खुशियाँ संग लायी है
कोई है हरा कोई नीला है कोई लाल
होली के रंगों में हैं सब खुशहाल
हमको भी होली है खूब भाई
आप को भी होली की बहुत बधाई

Advertisements

Bura na mano Holi hai – Hindi Poem

बुरा न मानो होली है – हिंदी कविता

रंगों के संग, मस्ती की टोली है

बुरा न मानो होली है

उम्मीदों की मिठाई है

खुशियों संग मिलाई  है

उल्लास में डूबे है सभी

मस्ती हर दिल पर छाई है

कोई नीला है, कोई है हरा

चारो तरफ इन्द्रधनुष सा रंग भरा

खुश हम भी है, हर्ष की बात है

अपनों के संग हर होली खास है

 (अनुष्का  सूरी )
आप सभी को होली की शुभकामनाएं!